पत्नी ने ज्वालामुखी में गिरे पति को बचाया

KhabareRojana

अमेरिका- फ्लोरिडा के क्ले चेस्टैन और उनकी पत्नी एकैमी ने 18 जुलाई को हनीमून के लिए कैरेबियाई सागर स्थित माउंट लियमाइगा पर्वत को चुना था। जिसके दौरान पत्नी ने अपना साहस दिखाते हुए ज्वालामुखी में 50 फीट नीचे गिर गए पति को बचा लिया।

पहले पति और पत्नी ने ज्वालामुखी के पर्वत पर 3700 मीटर की चढ़ाई चढ़ी। फिर अचानक क्ले ज्वालामुखी में गिर गए। घटना स्थान पर उस वक़्त दोनों के अलावा कोई नहीं था। पत्नी ने धैर्य बनाए रखा और धीरे धीरे पहले पति को बाहर निकाला और फिर जख्मी पति को सहारा देकर 3.2 किमी दूर केम्प तक पहुंची। क्ले के शरीर के कई हिस्सों में गहरी चोट आई थी। क्ले को 20 लाख रुपए में मेडिकल चार्टर्ड प्लेन बुक कर फ्लोरिडा लेकर गए, जहां उनका इलाज चला और अब क्ले खतरे से बाहर हैं।

एकैमी (क्ले की पत्नी) के अनुसार, ‘‘सिर में चोट लगने पर क्ले जोर से मदद के लिए चिल्लाए, लेकिन वहां कोई नहीं था। ऐसे में मैंने क्ले को सहारा देकर बेस तक लेकर आयी और हम तीन घंटे में बेस तक पहुंचे थे।’’